हमें चाहने वाले मित्र

12 दिसंबर 2016

यह मेरा बदनसीब ,,उपेक्षित ,,लावारिस ,,भाजपा शासन द्वारा,, बर्बाद किया जा रहा ,,कोटा शहर है

दोस्तों यह मेरा बदनसीब ,,उपेक्षित ,,लावारिस ,,भाजपा शासन द्वारा,, बर्बाद किया जा रहा ,,कोटा शहर है ,,इसे ,,ललितकिशोर चतुर्वेदी ,,भुवनेश चतुर्वेदी ,,रिखब चन्द धारीवाल ने ,,राजस्थान के नक़्शे में सर्वोपरि स्थान दिलवाया ,,फिर पूर्वमंत्री,,, शान्तीकुमार धारीवाल ने इस कोटा शहर को,, सजाया ,,सँवारा ,,भारत के ही नहीं ,,विश्व के पर्यटन नक़्शे पर,, एक स्थापित नाम दिलवाया ,,आज कोटा जो राजस्थान को ,,पानी ,,बिजली ,,शिक्षा ,,डॉक्टर ,,इंजीनियर,,सर्वाधिक राजस्व देता है ,,वही कोटा ,,भाजपा के स्थानीय जनप्रतिनिधियो के महारानी मुख्यमंत्री वसुंधरा सिंधिया के,, जी हुज़ूर हो जाने से ,,कई साल पिछड़ गया है ,,नेतृत्वविहीन हो गया है ,,हमारे इस कोटा में ,,भाजपा कार्यकर्ता तो है ,,लेकिन बेगानी शादी में अब्दुल्ला दीवाने की तरह ,,यहां सभी विधायक ,,भाजपा के तो है,, लेकिन मुख्यमंत्री की निगाह में फिसड्डी,, टिश्यू पेपर की तरह ,,यहां भाजपा के सांसद तो है,,, लेकिन बेबस ,,लाचार ,,,कोटा को इस सरकार में घोर उपेक्षा का शिकार बनाया गया ,,संभागवार जनसुनवाई में ,,,मुख्यमंत्री की विधिवत जनसुनवाई कार्यक्रम नहीं हो सका ,,,यहां से मंत्री नहीं बनाये गए ,,हालात यह है के ,,, कोटा के उद्योग बन्द किये जा रहे है ,,रोज़गार खत्म किये जा रहे है ,,एयरपोर्ट खत्म कर दिया गया है ,,कोटा अनाथ हो गया है ,,बदसूरत किया जाने लगा है ,,इतना होता ,,,तब भी ठीक था ,,लेकिन प्रतिपक्ष से ,,,सांठगांठ हो जाने से ,,मुख्यमंत्री के हौसले इतने बढ़ गए है ,,कोटा सहित पुरे राजस्थान का भविष्य ,,,चोपट करने की कार्ययोजना तैयार की गयी है ,,मुख्यमंत्री एक शेरनी की तरह कोटा आयीं ,,प्रतिपक्ष के बढे बढे सुरमा नतमस्तक रहे ,,न एयरपोर्ट की मांग पर हंगामा ,,न उपेक्षा पर कालेझन्डे ,,न विरोध प्रदर्शन ,,सितम ज़रीफ़ी देखिये ,,राष्ट्रपिता महात्मा गान्धी ,,,कोंग्रेस के आइडियल,,, महात्मागांधी की मूर्ती,,, सांगोद कोटा में तोड़ी गयी ,,पूर्व मंत्री भरत सिंह ने,,, हंगामा किया ,,किसी का बाल ,,बांका भी नहीं हुआ ,,भरत सिंह को ,,अपनी पार्टी पर भरोसा था,,, इसलिए ,,कोंग्रेस के आइडियल ,,,महात्मा गांधी की मूर्ती का अपमान करने वाले ,, आरोपियों को दण्डित करवाने के लिए,, ,,पूरा घटनाक्रम एक दूत के साथ ,,प्रतिपक्ष नेता ,,रामेश्वर डूडी के पास पहुंचाया ,,खुद ,,देहात ज़िला अध्यक्ष ,,,सरोज मीणा ,,रामेश्वर डूडी को ,,,भरतसिंह का सन्देश देकर आयी ,,लेकिन अफ़सोस ,,कोंग्रेस के आइडियल ,,महात्मागांधी की मूर्ति का अपमान करने वाले ,,,लोगो को दण्डित करवाने के मामले में ,,कोंग्रेस के टिकिट से ,,चुनकर विधानसभा में गए ,,कोंग्रेस के नामपर ,,प्रतिपक्ष के नेता का पद,,प्राप्त कर सुविधाएं भोगने के बाद भी ,,,नेता प्रतिपक्ष होने के बाद भी ,,कोंग्रेस के पूर्वमंत्री ,,,द्वारा उठाये गए महात्मा गान्धी के मुद्दे को,, न जाने किन कारणों से,, विधानसभा में नहीं उठाया गया ,,पक्ष प्रतिपक्ष का कोटा के प्रति उपेक्षित इस रवय्ये का नतीजा यह है,, के अब कोटा का औद्योगिक विकास की डोर थामने की तैयारियां है ,,,मिडिया मैनेजमेंट ,,प्रतिपक्ष मैनेजमेंट का काम ,,,पूरा हो गया है और ,,,कोटा सहित पुरे राज्य के विकास की ,,,जो कार्ययोजना,,, विधानसभा में तैयार की थी ,,उसे ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है ,,प्रतिपक्ष चुप ,,मिडिया चुप ,,अब इस अनाथ कोटा के दर्द का इलाज कोन करेगा ,,राजस्थान में कोटा सहित ,,,राज्य के कई ज़िलों को ,,,विकसित करने की द्रष्टी से ,,राजस्थान विधानसभा ने ,,25 अप्रेल 2016 को स्पेशल इन्वेस्टमेंट रीजनल एक्ट 2016 को पारित किया गया था ,,इस क़ानून में ,,कोटा जैसे कई ज़िलों को ,,शामिल कर विशेष सुविधाएं देकर ,,उधोगिक दृष्टि सहित ,,हर तरह से विकसित करने की ,,,कार्ययोजना है ,,लेकिन आठ माह से अधिक,,, गुज़रने पर भी,,, कोटा सहित दूसरे ज़िलों को,,, इस योजना में ,,शामिल कर अधिसूचित नहीं किया गया है ,,,कारण ,,,चोंकाने वाला है ,,अगर कोटा को इस योजना में शामिल किया जाता है ,,,मुख्यमंत्री के चहेते ,,नगर विकास न्यास अध्यक्ष,,, जिन्हें इस पद पर ,,आऊट ऑफ् टर्न ,,,बनाया गया है ,,उन्हें पद छोड़ना पढ़ेगा ,, कोटा को ,,, विशेष इन्वेस्टमेंट रीजन में ,,शामिल करते ही ,नगरविकास न्यास को,,, भंग करने का ,,विशेष प्रावधान रखा गया है ,,क्योंकि ,,,इस रीजन व्यवस्था के लिए ,,,क़ानून बनाकर,, अलग व्यस्थाएं लागू की गयी है ,,,बस,,, इसीलिए कोटा सहित ,,,दूसरे ज़िलों को ,,,अधिसूचित अब तक नहीं किया गया है ,,इस योजना को लागू करने के लिए प्रतिपक्ष ,,,दबाव न बनाये,, और मीडिया सीरीज चलाकर ,,,इस योजना को लागू करने के लिए ,,,पीछा न करे ,,इसके लिए भी कुछ लोगो को,,, सुपारी दी गयी है ,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...