हमें चाहने वाले मित्र

02 नवंबर 2016

,,इमरान की नाजायज़ हिरासत में पिटाई ,,और उसकी माँ ,,बहन ,,पत्नी को प्रताड़ित करने के बाद

पिछले दिनों कोटा के किशोरपुरा थानाधिकारी के निवास पर गहने और नकदी चोरी के बाद ,,इमरान की नाजायज़ हिरासत में पिटाई ,,और उसकी माँ ,,बहन ,,पत्नी को प्रताड़ित करने के बाद ,,पत्नी की म्रत्यु के मामले में थानाधिकारी सहित सम्बन्धित पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुक़दमा दर्ज कर कार्यवाही करने की मांग को लेकर आज ,,अल्पसंख्यक विभाग कोटा सम्भाग प्रदेश कोंग्रेस कमेटी के पदाधिकारियो के नेतृत्व में ज्ञापन दिया गया ,,,एडवोकेट अख्तर खान अकेला ,,अब्दुल रशीद क़ादरी ,,तबरेज़ पठान ,,,समाजसेवक रिज़वान खान ने ,,पीड़ित इमरान ,,उसकी माँ और बहन को आई जी के समक्ष पेश कर उनके साथ प्रताड़ना की सारी घटनाक्रम का ब्यौरा दिया ,,,इमरान की छोटे ,,आई जी कोटा रेंज को बताई गयी ,,कोटा रेंज आई जी विशाल बंसल ने इस घटना को गम्भीरता से लेते हुए निष्पक्ष जांच का आश्वासन दिया ,,,ज्ञापन में मांग थी के जांच प्रभावित न हो इसलिए आरोपी थानाधिकारी निरीक्षक और पुलिसकर्मियों को थाने से तत्काल हटाया जाए ,,मुक़दमा दर्ज कर दोषी लोगो को दण्डित करवाने के लिए निष्पक्ष जांच के तहत ,,मृतका रेहाना का शव ,,क़ब्रिस्तान से निकाल कर मौके पर ही पोस्टमार्टम करवाया जाए ,,एवंम चोट के परीक्षण के बाद दोषी लोगो को सजा दिलवाइए जाये ,, आई जी कोटा रेंज ने इस मामले में तुरन्त विशेष दिशा निर्देश जारी करते हुए कार्यवाही की उच्चस्तरीय अधिकारियो से जाँच करवाने के आदेश दिए ,,इस मामले में मृतका रेहाना के पति के साथ ,,ज़िला कलेक्टर के नाम एक ज्ञापन मजिट्रेट जांच को लेकर अतिरिक्त कलेक्टर प्रशासन सुनीता डागा ,,पुलिस अधीक्षक कोटा को भी दिया गया ,,इस मामले में अब तक कोई फौजदारी मुक़दमा दर्ज नहीं होना चिंता का विषय है ,,इधर ह्यूमन रिलीफ सोसाइटी के महासचिव एडवोकेट अख्तर खान अकेला ने सम्पूर्ण घटना की जानकारी राजस्थान मानवाधिकार आयोग और राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को भी देते हुए कार्यवाही की मांग की थी ,,राष्ट्रिय मानवाधिकार ने इस घटना को गम्भीरता से लिया है ,,,और Diary No. is : 181288/CR/2016. -NHRC, New Delhi.पर कार्यवाही रजिस्टर्ड दर्ज कर ,,जवाब तलब किया है ,,,,,,देखते है इस पूरी गम्भीर कार्यवाही में अब पुलिस अधिकारियो के अपराधी होने के बाद भी उनके खिलाफ फौजदारी मुक़दमा दर्ज होता है ,,या फिर यूँ ही जांच के नाम पर कार्यवाही चलाई जाती है ,,इमरान इस मामले में अब अपनी पत्नी की मोत के बाद न्याय के लिए हर तरह की लड़ाई लड़ने को तैयार है ,,इस मामले में अगर वक़्त रहते फौजदारी मुक़दमा दर्ज नहीं हुआ तो अदालत के ज़रिये भी ,,नामजद लोगो के खिलाफ कार्यवाही करने से इमरान और उसके परिजन पीछे नहीं हटेंगे ,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...